अंतिम संस्कार से पहले मां का चेहरा देखना है तो 5000रु दो, वीडियो वायरल- Jagran Plus News

155

Jagran Plus News, ओडिशा। कोरोना काल में जहां जरूरतमंदों की मदद की अनगिनत कहानियां सामने आईं, वहीं इंसान की शक्ल में लूट-खसोट करने वालों की भी कमी नहीं रही। मानवता को शर्मसार करने वाली ऐसी ही एक घटना ओडिशा के क्योंझार जिले में हुई है। यहां एक महिला की कोविड-19 से मौत होने के बाद श्मशान-गृह में अतिंम संस्कार किया जा रहा था। महिला के बेटे ने मां के चेहरे के अंतिम बार दर्शन करने चाहे तो श्मशान-गृह पर तैनात एक कर्मचारी ने इसके लिए 5,000 रुपए की मांग की।

शव का चेहरा दिखाने के लिए घूस की मांग करने वाली ये पूरी घटना कैमरे में कैद हो गई। ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।श्मशान-गृह के स्टाफ सदस्य को वीडियो में ये कहते सुना जा सकता है, “अगर तुम 5,000 रुपए दोगे, तभी मैं चेहरा पूरी तरह देखने दूंगा, नहीं तो जैसे शव पीपीई किट में पैक मिला है, वैसे ही उसका अंतिम संस्कार कर दूंगा.”

नंदीग्राम सीट की पूरी चुनाव प्रक्रिया को CM ममता ने हाईकोर्ट में दी चुनौती, सुनवाई आज- Jagran Plus News

घूस मांगने वाले को जब पता चला कि उसकी बातचीत मृतक महिला के बेटे की ओर से मोबाइल में रिकॉर्ड की जा रही है, तो उसने इस पर सवाल किया। इस पर महिला के बेटे ने जवाब दिया, “अगर मैं अपनी मरी हुई मां का सिर्फ चेहरा देखने के लिए 5,000 रुपए दे रहा हूं तो मैं इसे रिकार्ड भी करूंगा और इंटरनेट पर अपलोड भी करूंगा, चाहे इसके लिए मुझे जेल ही क्यों न जाना पड़े।” सोशल मीडिया पर वीडियो आने पर क्षेत्र के लोगों ने श्मशान-गृह के कर्मचारी के बर्ताव पर गहरी नाराजगी जताई।

क्योंझार के जिला कलेक्टर आशीष ठाकरे ने बताया, हमें इस तरह का एक वीडियो मिला है, मैंने इस पर जांच के आदेश दिए हैं। जांच पूरी होने के बाद उपयुक्त कार्रवाई की जाएगी। क्योंझार जिले के कृष्णापुर गांव की रहने वाली महिला को कोरोना से सक्रमित होने के बाद जिला प्रशासन की ओर से संचालित कोविड-अस्पताल में भर्ती कराया गया था। महिला की मौत के बाद उसके शव को अस्पताल प्रबंधन की ओर से घर वालों को सौंपे जाने के बाद श्मशान-गृह लाया गया था।