बेरोजगार पशुधन सहायकों की तरफ से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा

212

मुख्यमंत्री के विशेषधिकारी लोकेश शर्मा को मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन सौंपा

संजय सैनी एवं लालचन्द ने सौंपा ज्ञापन

जागरण प्लस न्यूज़, जयपुर। राजस्थान के बेरोजगार पशुधन सहायकों की तरफ से संजय सैनी एवं लालचन्द ने मुख्यमंत्री के विशेषधिकारी (OSD) लोकेश शर्मा को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम ज्ञापन सौंपा। लालचन्द ने बताया कि केंद्र की एक योजना राष्ट्रीय गोकुल मिशन जिसमे दसवीं पास शैक्षणिक योग्यता वालो को मात्र 30 दिन का क्लासरूम प्रशिक्षण देकर उन्हें पशुओं के कृत्रिम गर्भाधान, प्राथमिक उपचार, टीकाकरण इत्यादि कार्यों में लगाया जाएगा। लेकिन इसके दुष्परिणाम साबित होंगे क्योंकि दसवीं पास इतनी अल्पावधि में कृत्रिम गर्भाधान की वैज्ञानिक विधि नहीं जान सकते और ना ही पशुविज्ञान के बारे में जान सकते यदि इस स्थिति में वो कृत्रिम गर्भाधान करते हैं तो पशुओं के बाँझ होने का खतरा बढ़ जाएगा, जिससे पशुपालको को आर्थिक हानि होगी।

यह योजना मूक पशुओं के साथ क्रुर व्यवहार करने जैसी है और साथ में सभी पशुधन सहायकों का औचित्य खत्म करने वाली है।इससे प्रदेश के पशुधन की बर्बादी निश्चित है साथ ही बेरोजगार पशुधन सहायकों के लिए रोजगार के अवसर समाप्त करना है। इस लिए इस योजना को निरस्त करके प्रदेश के बेरोजगार पशुधन सहायकों के नियोजन की कार्य योजना तैयार की जाए जिससे युवा प्रशिक्षित बेरोजगार पशुधन सहायकों के लिए रोजगार का मार्ग प्रशस्त हो सके।

इस योजना के खिलाफ प्रदेश के सभी पशुधन सहायकों में रोष व्याप्त है l इसके सम्बंध में मुख्यमंत्री ओएसडी लोकेश शर्मा ने आश्वासन दिया कि इसे जल्द विभागीय संज्ञान के लिए भेजा जाएगा ।