राजस्थान निजी लाइब्रेरी एसोसिएशन द्वारा ट्रेड लाइसेंस का विरोध, 11 सितंबर को बंद रहेंगे समस्त निजी लाइब्रेरी संस्थान

46

ग्रेटर नगर निगम क्षेत्र में लाइब्रेरी व्यवसाय पर अत्यधिक शुल्क का निजी लाईब्रेरी संचालकों द्वारा विरोध

जागरण प्लस न्यूज़, जयपुर। ग्रेटर नगर निगम क्षेत्र में सभी व्यवसायिक गतिविधियों पर निगम द्वारा लागू की जाने वाली ट्रेड लाइसेंस का राजस्थान लाइब्रेरी एसोसिएशन ने भी विरोध दर्शाया है। लाइब्रेरी एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री सूरज साहू और समस्त सदस्यों ने अपना वक्तव्य विरोध जताते हुए निगम के इस ट्रेड लाइसेंस और वार्षिक शुल्क सभी के लिए घातक बताया।

एवम् बतलाया की वर्तमान वैश्विक महामारी करोना के पश्चात शिक्षा में गतिरोध भविष्य में हमारी शिक्षा नीति को तो आधात पहुंचाया ही था, पर ऐसे हालात में ऐसे संगठन जो कि शिक्षा के समग्र विकास व देश निर्माण के सहायक सिद्ध रहे हैं उन पर अतिरिक्त ट्रेड लाइसेंस व्यवस्था आरोपित कर निगम ने न केवल इस व्यवसाय की वित्तीय स्थिति में आघात पहुंचाया बल्कि देश के युवा छात्रों को शिक्षा से वंचित का एक मार्ग प्रशस्त भी किया है।

इसलिए राजस्थान लाइब्रेरी एसोसिएशन आगामी 11 सितंबर को विभिन्न व्यावसायिक संगठनों के राजस्थान बंद के तहत उन संगठनों के साथ मिलकर बंद का समर्थन करती है। सरकार व निगम से गुजारिश भी करती है कि ट्रेड लाइसेंस वाले काले कानून को वापस लिया जाएं, जिससे भविष्य में ऐसी लाइब्रेरी संस्थाएं शिक्षा नीतियों को सफल बनाने में अपनी भूमिका का क्रियान्वयन कर सके।